UP विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022|अप्लाई ऑनलाइन

यूपी विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना|विश्वकर्मा सम्मान योजना online form|विश्वकर्मा श्रम रोजगार ऑनलाइन|विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना रजिस्ट्रेशन|Vishwakarma Shram Samman Yojana online Registration|Vishwakarma Shram Samman Yojana 2022

आज हम आपको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किये गए “विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना” के बारे में जानकारी देंगे। यूपी के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के सभी परम्परागत मजदूरों के विकास और स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना को शुरू करने का फैसला किया है। विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत पारंपरिक कारीगरों व दस्तकारों को अपने हुनर को और ज्यादा निखारने के लिए 6 दिन की फ्री ट्रेनिंग दी जाएगी।

जिसका पूरा खर्च राज्य सरकार द्वारा उठाया जाएगा। इसके साथ ही स्थानीय दस्तकारों तथा पारंपरिक कारीगरों को छोटे उद्योग स्थापित करने के लिए 10 हजार से लेकर 10 लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता भी उपलब्ध कराई जाएगी।उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने लॉक-डाउन के समय में श्रमिक को स्वयं रोजगार के लिए प्रोत्साहित करने तथा उनके स्किल्स को बढ़ाने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत ऑनलाइन मोड में पंजीकरण की शुरुआत की है। इस योजना को पूरी तरह से प्रदेश सरकार द्वारा वित्त पोषित किया जा रहा है।

Read more

UP वरासत अभियान 2022″अप्लाई ऑनलाइन”UP Varasat Abhiyan apply online

UP Varasat Abhiyan apply online”यूपी वरसात अभियान 2022″उत्तर प्रदेश वरासत अभियान 2022″यूपी विराट योजना”Uttaradhikar Virasat Portal

आज हम आपके लिए UP वरासत अभियान 2022 जानकारी लेकर आए हैं|यूपी में योगी सरकार गांव में जमीनों से जुड़े अभिलेखों को लिखित रूप से दर्ज कराने के लिये 15 दिसंबर से विशेष अभियान शुरू किया है. इसके तहत जमीन से जुड़े विवाद और उत्तराधिकार जैसे मामलों पर लगाम कसी जाएगी|यह उत्तर प्रदेश वरासत अभियान लागू ऑनलाइन प्रक्रिया वर्तमान में भूमि / संपत्ति रिकॉर्ड के अद्यतन के लिए चल रही है। यह यूपी विराट योजना प्राकृतिक उत्तराधिकार अभियान के एक भाग के रूप में ग्रामीण क्षेत्रों में भूमि संबंधी मुद्दों को समाप्त करेगी। 

इसके अलावा, राजस्व विभाग के उत्तराधिकारी अभियान में भू-माफियाओं पर भी अंकुश लगाया जाएगा जो आम तौर पर ग्रामीण इलाकों में विवादित भूमि को निशाना बनाते हैं। अब हम आपको UP Varasat Abhiyan Apply Online प्रक्रिया के बारे में बताने जा रहे हैं।उत्तर प्रदेश वरासत अभियान के माध्यम से राज्य के 1,08,000 राजस्व गांवों में वर्षों से लंबित मामले को निपटाने का प्रावधान किया गया है।

Read more

यूपी मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना|UP Internship Scheme 2022

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना|यूपी शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना 2022|UP Internship yojana 2022|मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना|इंटर्नशिप योजना 2022|यूपी इंटर्नशिप योजना 2022|up Mukhyamantri shishikshu protsahan yojana|

आज हम यूपी मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना जानकारी साझा करेंगे|उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी यूपी इंटर्नशिप योजना 2022 ने योजना की शुरुआत की है| उत्तर प्रदेश में बहुत से युवा बेरोजगार हैं उन बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के लिए इस योजना चलाया गया है|मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना’ के तहत पहले चरण में 35 हजार युवाओं को निजी संस्थानों में काम सीखने का मौका मिलेगा। काम सीखने के बाद सरकार निजी संस्थानों में शिशिक्षुओं (इंटर्न) को नौकरी दिलाने के भी प्रयास करेगी। काम सीखने के दौरान शिशिक्षु को 2500 रुपये महीने मिलेंगे।

इसमें 1500 रुपये केंद्र व एक हजार रुपये राज्य सरकार देगी।सरकार को शिशिक्षुओं को अपने हिस्से की अप्रेन्टिसशिप एक हजार रुपये देने में इस साल 63 करोड़ रुपये खर्च होंगे। व्यवसायिक शिक्षा विभाग ने राज्य सरकार से 63 करोड़ रुपये मांगे हैं। व्यवसायिक शिक्षा विभाग ने सरकार को ‘मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना’ का पूरा खाका खींचकर भेजा है। विभाग ने यह भी बताया कि शिशिक्षु अधिनियम के तहत सरकारी, सहकारी, निगम व निजी उद्योग अपने यहां कुल कार्मिकों की संख्या का ढाई से 15 फीसदी तक अप्रेन्टिसशिप के तहत युवाओं को काम सीखने का मौका देते हैं।

Read more

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना|Aatm Nirbhar UP Rojgar yojana

आत्मनिर्भर यूपी रोजगार योजना|आत्मनिर्भर  यूपी रोजगार अभियान|आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान| यूपी रोजगार योजना|Aatm Nirbhar UP Rojgar yojana|Aatm Nirbhar Utttar pradesh Rojgar yojana|UP Rojgar yojana

आज हम आपके लिए आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान की जानकारी साझा करने जा रही हैं| मोदी जी ने और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने उत्तर प्रदेश रोजगार योजना की शुरुआत की है|लॉकाडाउन के बाद देश की अर्थव्यवस्था को दोबारा दौड़ाने के लिए केंद्र सरकार अब अपने ऐलानों को हकीकत में बदलना शुरू कर चुकी है. इसी कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्तर प्रदेश से आगाज कर रहे हैं| प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’  (Atma Nirbhar UP Rojgar Abhiyan) की शुरुआत करेंगे|

जैसा कि आप जानते हैं  में लॉकडाउन के चलते युवा बेरोजगार हो गए हैं| इन्हीं बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के लिए आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान को चलाया गया है गया है|आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ के तहत उत्तर प्रदेश में 1 करोड़ लोगों को रोजगार मुहैया कराया जाएगा|मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एकसाथ एक करोड़ लोगों को रोजगार देकर नया रिकॉर्ड बनाएंगे| एकसाथ एक करोड़ से ज्यादा लोगों को रोजगार देने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य होगा|

Read more

*New*UP ration card list 2022|यूपी *नई* राशन कार्ड सूची

उत्तर प्रदेश राशन कार्ड लिस्ट 2022|राशन कार्ड नई लिस्ट उत्तर प्रदेश|राशन कार्ड खोजें up|UP ration card list 2022|fcs.up.nic.in ration card list 2022|यूपी राशन कार्ड सूची 2022 बीपीएल / एपीएल | यूपी न्यू राशन कार्ड सूची |

हर परिवार के पास राशन कार्ड होना बहुत जरूरी है | क्यूंकी इसकी जरूरत बहुत सी सरकारी योजनाओं के दौरान पड़ती है | और वैसे भी जो गरीब परिवार यानि नीचे स्तर के लोग होते हैं | उत्तर प्रदेश सरकार के खाद्य और रसद विभाग ने NFSA के लिए पात्रता के तहत यूपी राशन कार्ड की सूची जारी की है। जिन आवेदकों ने यूपी राशन कार्ड 2022 के लिए आवेदन किया है, वे नई राशन कार्ड सूची में अपना नाम देख सकते हैं।

 जिन्होंने पहले यूपी के नए राशन कार्ड के लिए आवेदन किया है और अब सूची में नामों की जांच करना चाहते हैं, तो आप सही पृष्ठ पर हैं। यूपी राशन कार्ड नई सूची 2022 बीपीएल / एपीएल राशन कार्ड देख सकते हैं।यहां, हमने NFSA की पात्रता सूची की जाँच के लिए पूर्ण प्रक्रिया को खाद्य और रसद विभाग, यूपी के ऑनलाइन पोर्टल से साझा किया है। इसके माध्यम से आवेदक यूपी एपीएल / बीपीएल राशन कार्ड सूची में अपना नाम आसानी से देख सकते हैं।

Read more

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना|ऑनलाइन आवेदन

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना|उत्तर प्रदेश कृषक दुर्घटना योजना 2022|कल्याण योजना ऑनलाइन फॉर्म|Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana 2022

प्यारे उत्तर प्रदेश वासियों आप सभी के लिए आज हम एक नई योजना लेकर आए हैं जोकि कृषक वर्ग के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण योजना है उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा शुरू की गई बहुत ही कल्याणकारी योजना है इस article में हम आपको योजना से संबंधित पूरी जानकारी देंगे योजना के लिए कैसे आवेदन करें, योजना के लिए पात्रता, योजना के लाभ, सहायता राशि किस प्रकार से कृषक वर्ग में वितरित की जाएगी ,उत्तर प्रदेश में चल रही बाकी सारी योजनाओं के बारे में जानने के लिए आप हमारी ऑफिशल वेबसाइट विजिट कर सकते हैं और उत्तर प्रदेश से संबंधित सभी योजनाओं की विस्तृत जानकारी ले सकते हैं|

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना की शुरुआत 2020 से की गई की गई राज्य सरकार द्वारा यूपी बजट 2020 -21 में इस योजना के लिए लगभग 500 करोड रुपए का बजट रखा है इस बजट में कृषक वर्ग को दुर्घटना कल्याण योजना के अंतर्गत सहायता प्रदान की जाएगी, उत्तर प्रदेश के कृषक वर्ग में यदि किसी घर के मुखिया या जो व्यक्ति कमाने वाला है उसकी किसी आकस्मिक दुर्घटना (कृषि करते वक्त या हार्ट अटैक /एक्सीडेंट ,नदी में डूबना ,कुएं में डूबना , गैस त्रासदी ,भूस्खलन आना) के कारण मृत्यु हो जाती है या वह अपंग हो जाता है|

Read more

[पंजीकरण] यूपी धान खरीद किसान रजिस्ट्रेशन|up dhan kharid registration

धान विक्रय हेतु पंजीकरण UP|उत्तर प्रदेश धान खरीद किसान पंजीकरण 2021|यूपी धान खरीद किसान पंजीकरण|up dhan kharid registration last date|up dhan kharid registration

उत्तर प्रदेश में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर एक अक्टूबर से शुरू होने वाली धान की सरकारी खरीद के लिए क्रय नीति को कैबिनेट बाई सर्कुलेशन मंजूरी दे दी गई है। प्रदेश में तीन हजार से अधिक क्रय केंद्र स्थापित किए जाएंगे और किसानों को धान बिक्री से पूर्व पंजीकरण कराना अनिवार्य है। आधार कार्ड की अनिवार्यता के अलावा किसानों को पीएफएमएस (पब्लिक फाइनेंसियल मैनेजमेंट सिस्टम) के जरिये उनके बैंक खातों में धान मूल्य उपलब्ध कराया जाएगा।अब धान क्रय केंद्रों से गन्दा और गीला धान वापस नहीं किया जाएगा।

सरकार ने सभी धान केंद्रों पर धान का मानक नमूना रखने को कहा है, इसलिए किसानों को धान सुखाने और साफ़ करने के लिए पर्याप्त समय दिया जायगा। किसान असंतुष्ट होने पर क्षेत्रीय विपणन अधिकारी से शिकायत कर सकते हैं।इस योजना के तहत किसान घर बैठे अपने धान को बेचने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करा सकते है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि किसान आसानी से अपने धान को बेच सके। सरकार भी अच्छे दामों पर किसानों से धान की खरीद कर रही है जिससे उन्हें बहुत लाभ हो रहा है। इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा। ऑनलाइन पंजीकरण के बाद कोई भी किसान घर बैठे ऑनलाइन धान बेच सकता है।

Read more