कृषि उपज रहन ऋण योजना”Krishi Upaj Rahan Rin Yojana

राजस्थान कृषि उपज रहन लोन योजना”कृषि उपज रहन ऋण योजना”कृषि उत्पादन जमा ऋण योजना”Rajasthan Krishi Upaj Rahan Rin Yojana”Krishi Upaj Rahan Rin Yojana

आज हम आपके लिए हम आपके लिए कृषि उपज रहन ऋण योजना की जानकारी लेकर आए हैं| हम आपको बताएंगे कि  राजस्थान कृषि उपज रहन लोन योजना 2020 क्या है| आप किस प्रकार कृषि उत्पादन जमा ऋण योजना का लाभ उठा सकते हैं|प्रदेश में एक जून से शुरू होने जा रही उपज रहन ऋण योजना के पहले चरण में 25 हजार किसानों को जोड़ने का लक्ष्य तय किया गया है। योजना में किसान अपनी उपज को रहन रखकर 3 प्रतिशत ब्याज पर डेढ़ लाख से तीन लाख रुपए तक का ऋण ले सकेंगे।

उन्होंने कहा कि लघु एवं सीमान्त किसानों को 1.50 लाख रुपए एवं बड़े किसानों को 3 लाख रुपए रहन ऋण के रूप में  देने के लिए योजना है। इसमें किसान को उसकी उपज का 70 प्रतिशत ऋण मिलेगा। किसान बाजार में अच्छे भाव आने पर अपनी फसल को बेच सकता है। यह योजना कम दामों में फसल बेचने की मजबूरी में मददगार साबित होगी।

 राजस्थान कृषि उपज रहन लोन योजना

कृषि उपज रहन लोन योजना के तहत जून माह में राज्य के 25 हजार किसानों को जोड़कर लाभ प्रदान किया जाएगा. राज्य सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना से किसानों के उपज बेचान से जुड़े हितों की सुरक्षा सम्भव हो सके. योजना में पात्र समितियों का दायरा बढ़ाकर इसे 5500 से अधिक किया गया है ताकि अधिक से अधिक किसान लाभान्वित हो सके|उपज रहन ऋण योजना, फसली ऋण वितरण और अन्य संबंधित बिन्दुओं पर जिलों में पदस्थापित सहकारिता के अधिकारियों एवं व्यवस्थापकों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित कर रहे थे|इसमें किसान को उसकी उपज का 70 प्रतिशत ऋण मिलेगा

Krishi Upaj Rahan Rin Yojana Highlights

योजना का नाम कृषि उपज रहन ऋण योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री शिवराज चौहान जी के द्वारा
लॉन्च की तारीक 1 जून 2020 को
लाभार्थी राज्य किसानों युवाओं
उद्देश्य किसानों रोजगार प्रदान करना 

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना का उद्देश्य

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि कोरोनावायरस के कारण भारत देश में लॉक डाउन की स्थिति बानी हुई है जिसकी वजह से भारत देश  की अर्थव्यवस्था काफी अधिक डगमगा चुकी है लेकिन सरकार द्वारा इसे सुलझाने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है अब राजस्थान सरकार नई योजना किसानों के लिए लेकर आई है ताकि कृषि की गुणवत्ता को प्रदेश में अधिक बढ़ाया जा सके | राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना के तहत किसानों को जो लोन दिया जाएगा उसका वितरण कल्याण कोष की तरफ से किया जाएगा|इस योजना के ज़रिये राज्य के किसानो की आय में वृद्धि करना। Krishi Upaj Rahan Loan Yojana के ज़रिये राज्य में अपने कृषि उत्पाद का उचित मूल्य प्रदान करना है।इस योजना के ज़रिये राजस्थान के किसानो को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाना।

कृषि उत्पादन जमा ऋण योजना के लाभ

  • यह योजना भारत में सबसे कम ब्याज दर 3 प्रतिशत पर किसान को रहन ऋण देने की विशेष पहल है|
  • जो किसानों एवं समितियों की आय में वृद्धि करेगी|
  • उन्होंने निर्देश दिए कि सहकारी समितियां अपने आस-पास के गोदामों को ध्यान में रखते हुए अधिक से अधिक किसानों को उपज रहन ऋण देकर उनकी तात्कालिक आवश्यकताओ को पूरा करने में मदद करें|
  • योजना में अच्छे कार्य करने वाली समितियों के कार्मिकों के लिए शीघ्र ही एपेक्स बैंक द्वारा प्रोत्साहन स्कीम जारी की जाएगी|

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक राजस्थान राज्य का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक किसानों का एनपीए का लाभ 10% से कम होना चाहिए।
  • बैंक खाता अनिवार्य है।

राजस्थान जन आधार कार्ड डाउनलोड

कृषि उपज रहन ऋण योजना ऑनलाइन आवेदन

  • सर्वप्रथम आवेदक को एग्रीकल्चर की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।  ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको कृषि उपज रहन ऋण योजना” को खोजना है और उस पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको आवेदन फॉर्म भरना होगा।
  • आपको इस आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी  जैसे कि नाम, पता, आधार कार्ड नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, फसल का विवरण, भूमि का विवरण और भी अन्य विकल्प होंगे, जो भी पूछा जाये उसे सही-सही भरना होगा। इसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना है। इस तरह आपका ऑनलाइन आवेदन भर जायेगा

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *